तू प्यार का सागर है

Tu Pyar Ka Sagar Hai

तू प्यार का सागर है,
तेरी एक बूँद के प्यासे हम।

तू प्यार का सागर है,
तेरी एक बूँद के प्यासे हम।
लौटा जो दिया तूने,
चले जायेंगे जहां से हम॥

तू प्यार का सागर है,
तेरी एक बूँद के प्यासे हम।
तू प्यार का सागर है

घायल मन का पागल पंछी,
उड़ने को बेकरार।
पंख हैं कोमल, आँख है धुंधली,
जाना है सागर पार।

अब तू ही इसे समझा,
राह भूले थे कहाँ से हम॥

तू प्यार का सागर है,
तेरी एक बूँद के प्यासे हम।
तू प्यार का सागर है

इधर झूम के गाए जिन्दगी,
उधर है मौत खड़ी।
कोई क्या जाने कहाँ है सीमा,
उलझन आन पड़ी।

कानों में ज़रा कह दे
कानों में ज़रा कह दे के
आये कौन दिशा से हम॥

तू प्यार का सागर है,
तेरी एक बूँद के प्यासे हम।
तू प्यार का सागर है
तू प्यार का सागर है

तू प्यार का सागर है,
तेरी एक बूँद के प्यासे हम।

Read in English...

आप को इन्हें भी पढ़ना चाहिए हैं :

Tu Pyar Ka Sagar Hai बारे में

आपको इन्हे देखना चाहिए

आने वाला त्योहार / कार्यक्रम

आज की तिथि (Aaj Ki Tithi)

ताज़ा लेख

इन्हे भी आप देख सकते हैं

X