अम्बे तू है जगदम्बे काली

Ambe Maa ki Aarti

Short information

  • Ambe Mata is a form and name of Goddess Parvati. 'Ambe tu hai jagadambe kali jai durga khappar wali' is a beautiful Hindu hymn song (aarti) addressed to Goddess Parvati Devi, the divine wife of Lord Shiva, Parvati.

  • Mandir Aarti at 5:15 AM (Morning) and at 7:15 PM (Evening)

अम्बे तू है जगदम्बे काली जय दुर्गे खप्पर वाली।
तेरे ही गुण गाये भारती, ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती ॥
तेरे भक्त जनो पर माता, भीर पडी है भारी माँ।
दानव दल पर टूट पडो माँ करके सिंह सवारी।
सौ-सौ सिंहो से बलशाली, है अष्ट भुजाओ वाली,
दुष्टो को पलमे संहारती।
ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती ॥

माँ बेटे का है इस जग मे बडा ही निर्मल नाता।
पूत – कपूत सुने है पर न, माता सुनी कुमाता ॥
सब पे करूणा दरसाने वाली, अमृत बरसाने वाली,
दुखियो के दुखडे निवारती।
ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती ॥

नही मांगते धन और दौलत, न चांदी न सोना माँ।
हम तो मांगे माँ तेरे मन मे, इक छोटा सा कोना॥
सबकी बिगडी बनाने वाली, लाज बचाने वाली,
सतियो के सत को सवांरती।
ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती ॥

चरण शरण मे खडे तुम्हारी, ले पूजा की थाली।
वरद हस्त सर पर रख दो,मॉ सकंट हरने वाली।
मॉ भर दो भक्ति रस प्याली, अष्ट भुजाओ वाली,
भक्तो के कारज तू ही सारती।
ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती ॥

घण घण हुए भवन में चौरासी घण बाजे
लागुर वीर चले तेरे आगे, भैरव चँवर डुलायें
ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती ॥

Read in English...

आप को इन्हें भी पढ़ना चाहिए हैं :

Ambe Maa ki Aarti बारे में

आपको इन्हे देखना चाहिए

आने वाला त्योहार / कार्यक्रम

आज की तिथि (Aaj Ki Tithi)

ताज़ा लेख

इन्हे भी आप देख सकते हैं

X