आज का चौघड़िया मुहूर्त क्या है, आज का शुभ समय क्या है

चौघड़िया मुहूर्त का समय , दा डिवाईन इंडिया के इस पृष्ठ पर आपको आज का चौघड़िया मुहूर्त क्या है?, आज दिन के चौघड़िया मुहूर्त क्या है और आज रात के चौघड़िया मुहूर्त क्या है जैसे सवालों का उत्तर मिल सकता है। यह पृष्ठ प्रतिदिन अमृत, शुभ, लाभ, चर, रोग, काल और उद्वेग चौघड़िया के प्रारम्भ एवं अन्त का समय सूचीबद्ध करता है।

विक्रम संवत 2078

शुक्रवार, 30 जुलाई 2021

सूर्योदय सूर्योदय 05.39 AM
सूर्यास्त सूर्यास्त 07.11 PM
चंद्रोदय चंद्रोदय 11:21 pm
चंद्रास्त चंद्रास्त 12:24 pm
यह समय दिल्ली एनसीआर के अनुसार।

आज दिन का चौघड़िया मुहूर्त क्या है?

चर 05:39 AM - 07:20 AM
लाभ 07:20 AM - 09:01 AM
अमृत 09:01 AM - 10:42 AM
काल 10:42 AM - 12:23 AM
शुभ 12:23 AM - 14:04 PM
रोग 14:04 PM - 15:45 PM
उद्वेग 15:45 PM - 17:26 PM
चर 17:26 PM - 19:07 PM

आज रात का चौघड़िया मुहूर्त क्या है?

रोग 19:11 AM - 07:20 AM
काल 20:55 AM - 22:39 AM
लाभ 22:39 AM - 00:23 AM
उद्वेग 00:23 AM - 02:07 AM
शुभ 02:07 AM - 03:51 PM
अमृत 03:51 PM - 05:35 PM
चर 05:35 PM - 07:19 PM
रोग 07:19 PM - 09:03 PM

चौघड़िया, चौघड़िया तालिका, चौघड़िया मुहूर्त, चौघड़िया नई दिल्ली, चौघड़िया मुहूर्त दिल्ली और एनसीआर, अमृत चौघड़िया, शुभ चौघड़िया, लाभ चौघड़िया, चर चौघड़िया, रोग चौघड़िया, काल चौघड़िया, उद्वेग चौघड़िया


आने वाली पूर्णिमा, एकादशी, अमावस्या और अन्य व्रत तिथियां

कामिका एकादशी
बुधवार, 04 अगस्त 2021
एकादशी तिथि प्रारंभ: 03 अगस्त 2021 दोपहर 12:59 बजे
एकादशी तिथि समाप्ति : 04 अगस्त 2021 अपराह्न 03:17 बजे

हरियाली अमावस्या
रविवार, 8 अगस्त, 2021
अमावस्या प्रारंभ: 07 अगस्त 2021 07:11 9m . पर
अमावस्या समाप्ति : 08 अगस्त 2021 शाम 07:20 बजे

नारली पूर्णिमा, जंध्याल पूर्णिमा, श्रवण पूर्णिमा
शनिवार, 21 अगस्त 2021
पूर्णिमा प्रारंभ: शनिवार, 21 अगस्त 2021 को शाम 07:00 बजे
पूर्णिमा समाप्ति: रविवार, 22 अगस्त 2021 को शाम 05:31 बजे

प्रदोष व्रत
गुरुवार, 05 अगस्त, 2021
श्रवण, कृष्ण त्रयोदशी
प्रदोष व्रत प्रारंभ: 05 अगस्त 2021 शाम 05:09 बजे
प्रदोष व्रत समाप्त - 06 अगस्त 2021 को शाम 06:28 बजे

श्रावण, कृष्ण अष्टमी, काला अष्टमी व्रत
शनिवार, 31 जुलाई, 2021
अष्टमी तिथि प्रारंभ: 31 जुलाई 2021 पूर्वाह्न 05:40 बजे
अष्टमी तिथि समाप्त: 01 अगस्त 2021 पूर्वाह्न 07:56 बजे

सावन शिवरात्रि
शुक्रवार, 6 अगस्त, 2021।
शिवरात्रि प्रारंभ: 6 अगस्त 2021 शाम 06:28 बजे।
शिवरात्रि समाप्त: 07 अगस्त 2021 को शाम 07:11 बजे।

बहुला चतुर्थी, हरम्बा संकष्टी चतुर्थी
बुधवार, 25 अगस्त 2021,
चतुर्थी तिथि प्रारंभ - 25 अगस्त 2021 अपराह्न 04:18 बजे
चतुर्थी तिथि समाप्त - 26 अगस्त 2021 शाम 05:13 बजे

जुलाई पंचक तिथियां 2021
पंचक शुरू: 25 जुलाई 2021, रविवार रात 10:48 बजे
पंचक समाप्ति : 30 जुलाई 2021, शुक्रवार दोपहर 02:03 बजे





आगामी त्यौहार

  • सोमवार व्रत
  • मंगला गौरी व्रत 2021
  • रोहिणी व्रत सूची 2021
  • कामिका एकादशी 2021
  • काँवड़ यात्रा 2021


2021 के आगामी त्यौहार और व्रत











दिव्य समाचार









चौघड़िया मुहूर्त का अपना विशेष महत्व होता है। हिन्दू सस्कृति में प्रत्येक कार्य करना के लिए शुभ मुहूर्त व शुभ समय करने के लिए कहा गया है। वह शुभ समय हम चौघड़िया मुहर्त से पता चलता है। चौघड़िया मुहर्त के अनुसार दिन के कार्य करने से लाभ की संभावना बड़ जाती है और हानि की संभावान कम हो जाती है। चौघड़िया मुहर्त दिन और रात का अलग-अलग होता है। चौघड़िया मुहर्त सूर्योदर्य और सूर्यास्त के समय पर निर्भर करता है। चौघड़िया मुहूर्त के स्वामी- उद्वेग के रवि, चर के शुक्र, लाभ के बुध, अमृत के चन्द्र, काल के शनि, शुभ के गुरु और रोग के स्वामी मंगल हैं। श्रेष्ठ समय शुभ, चर, अमृत और लाभ के चौघड़िया का होता है। उद्वेग, रोग और के चौघड़िया मुहूर्तों का यत्नपूर्वक त्याग कर देना चाहिए।


चौघड़िया मुहूर्त का अर्थ क्या होता है?

चौघड़िया मुहूर्त दो शब्दों से बना है चै अर्थ चार और घड़ी अर्थात् समय। हिन्दू शास्त्र के अनुसार प्रत्येक घड़ी में 24 मिनट होते है। सूर्योदय से सूर्यास्त तक 30 घड़ी होती हैं जिन्हें 8 से विभाजित किया गया है। इसलिए, दिन में 8 चौघड़िया मुहूर्त और 8 रात्रि चौघड़िया मुहूर्त होते हैं। एक चौघड़िया 4 घड़ी 1 घण्टा 30 मिनट के बराबर होता है।

चौघड़िया मुहूर्त कौन सा मुहूर्त शुभ होता है?

चौघड़िया मुहूर्त में शुभ, चर, अमृत और लाभ सबसे अच्छा समय बताया गया है। इन घड़ियों में कोई भी शुभ कार्य किया जा सकता है।

चौघड़िया मुहूर्त कौन सा मुहूर्त अशुभ होता है?

चौघड़िया मुहूर्त में उद्वेग, रोग, काल को अच्छा समय नहीं बताया गया है। इन घड़ियों में कोई भी शुभ कार्य नहीं करना चाहिए अर्थात् ऐसा करने से बचना चाहिए।

आप इन्हें भी देख सकते हैं।


EN हिं