भगवान कार्तिकेय की आरती

Lord Kartikeya Aarti

संक्षिप्त जानकारी

  • भगवान कार्तिकेय या मुरुगन या मयूरी कंदासामी (सुब्रह्मण्य को तमिल हिंदुओं के बीच एक लोकप्रिय हिंदू देवता कहा जाता है। उन्हें सेंथिल, सरवा, अरुमुगम या सनमुगा ('छह चेहरों वाला एक'), कुमरा ('बच्चा या बेटा') सहित अन्य नामों से भी जाना जाता है। , गुहान ('गुफा-वासी'), स्कंद ('जो छलकता है या ओजित होता है, अर्थात् बीज' संस्कृत में), सुब्रह्मण्य, वल्यो और स्वामिनाथ।

जय जय आरती वेणु गोपाला
वेणु गोपाला वेणु लोला
पाप विदुरा नवनीत चोरा

जय जय आरती वेंकटरमणा
वेंकटरमणा संकटहरणा
सीता राम राधे श्याम

जय जय आरती गौरी मनोहर
गौरी मनोहर भवानी शंकर
सदाशिव उमा महेश्वर

जय जय आरती राज राजेश्वरि
राज राजेश्वरि त्रिपुरसुन्दरि

महा सरस्वती महा लक्ष्मी
महा काली महा लक्ष्मी

जय जय आरती आन्जनेय
आन्जनेय हनुमन्ता

जय जय आरति दत्तात्रेय
दत्तात्रेय त्रिमुर्ति अवतार

जय जय आरती सिद्धि विनायक
सिद्धि विनायक श्री गणेश

जय जय आरती सुब्रह्मण्य
सुब्रह्मण्य कार्तिकेय ||

You can Read in English...

आरती

मंत्र

चालीसा

आप को इन्हें भी पढ़ना चाहिए हैं :

Other Karthikeya Devotional Materials of Aarti

Lord Kartikeya Aarti बारे में

आपको इन्हे देखना चाहिए

आने वाला त्योहार / कार्यक्रम

आज की तिथि (Aaj Ki Tithi)

ताज़ा लेख

इन्हे भी आप देख सकते हैं

X