श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ

महत्वपूर्ण जानकारी

  • आधिकारिक वेबसाइट: https://srjbtkshetra.org
  • स्थान: साई नगर, अयोध्या, उत्तर प्रदेश 224123।
  • टेंपल ओपन एंड क्लोज टाइमिंग: समर - सुबह 07.30 से 11.30 बजे और शाम 04.30 से 09.30 बजे।
  • सर्दी - सुबह 09:00 से सुबह 11:00 और शाम 04:00 से रात 9:00 तक।
  • निकटतम रेलवे स्टेशन: राम मंदिर से लगभग 2 किलोमीटर की दूरी पर अयोध्या रेलवे स्टेशन।
  • निकटतम हवाई अड्डा: राम मंदिर से लगभग 146 किलोमीटर की दूरी पर लखनऊ हवाई अड्डा।
  • यात्रा का सबसे अच्छा समय: अक्टूबर-फरवरी का दौरा करने का सबसे अच्छा समय है और (सुबह 8:00 बजे से पहले)।
  • क्या आप जानते हैं: राम जन्मभूमि एक विवादित स्थान है जो हिंदुओं और मुसलमानों के बीच है। सुपेम कोर्ट ने 9 नवंबर 2019 को राम मंदिर बनाने का फैसला दिया।
  • श्री राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट दान, ट्रस्ट खाता संख्या, ट्रस्ट बैंक खाता, राम मंदिर कैसे होगा?, कहाँ करे राम मंदिर निर्माण में दान के लिए?

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ यह वहा स्थान है जहां पर भगवान श्रीराम का जन्म हुआ था। श्रीराम भगवान विष्णु के सातवें अवतार हैं। श्रीराम जन्मभूमि भारत के राज्य उत्तर प्रदेश, अयोध्या में स्थित है। श्रीराम जन्मभूमि अयोध्या में सरयू नदी के तट पर स्थित है। यह वह स्थान है जो कई वर्षो से दो वर्गो के बीच विवादित स्थान रहा था। सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों की बेंच ने अगस्त से अक्टूबर 2019 तक के टाइटल विवाद के मामलों की सुनवाई की। 9 नवंबर 2019 को सुप्रीम कोर्ट ने हिंदू मंदिर के निर्माण के लिए भूमि एक ट्रस्ट को सौंपने का आदेश दिया था।

श्रीराम जन्मभूमि हिन्दुओं के लिए महत्वपूर्ण तीर्थ स्थल है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद इस स्थान पर श्रीराम मंदिर के निर्माण कार्य किया जा रहा है। भारत के प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने 5 अगस्त 2020 को निर्माण का शिलान्यास किया था। इस कार्य के लिए भारत सरकार ने श्रीराम मंदिर के निर्माण व प्रबंधन के लिए ’श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र’ ट्रस्ट स्थापित की है। श्रीराम मंदिर के निर्माण हेतु भारत सरकार ने लगभग 70 एकड़ भूमि श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र को सौंपी है। ‘श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र’ ट्रस्ट में 12 से 15 सदस्य रहेगें। इस ट्रस्ट के अध्यक्ष पूज्य महन्त नृत्यगोपाल दास जी है।

ऐसा बनेगा भव्य राम मंदिर

मंदिर के निर्माण के कुल क्षेत्रफल:  2.7 एकड़
कुल निर्माण क्षेत्र: 57,400 वर्गफुट
कुल लम्बाई: 360 फुट
कुल चैड़ाई: 235 फुट
कुल उँचाई (शिखर तक): 161 फुट
मण्डपों की संख्या: 5
कुल तीन तल होंगे, प्रत्येक तल की उँचाई: 20 फुट

श्री राम मंदिर के निर्माण का कार्य लार्सन टुब्रो कम्पनी को दिया है, निर्माता कंपनी के सलाहकार के रूप में ट्रस्ट ने “टाटा कंसल्टेंट इंजीनियर्स “ को चुना है । संपूर्ण मंदिर पत्थरों से बनेगा। ऐसा कहा जा रहा है जो श्रीराम मंदिर की आयु लगभग 1000 वर्ष होगी। यह संपूर्ण मंदिर भूकम्प के प्रभाव को ध्यान में रखकर बनाया जा रहा है।

मंदिर निर्माण हेतु दान

मंदिर के निर्माण के लिए भारत के सभी राज्यों से भक्तों ने अपने-अपने सामर्थ के अनुसार दान दिया है। ‘श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र’ ट्रस्ट इस दान का प्रयोग मंदिर निर्माण में कर रहा है। ‘श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र’ ट्रस्ट ने समाज के सभी वर्गो से मंदिर निर्माण हेतु दान के लिए आग्रह किया है। आप निम्नलिखित बैंक खातों में श्री राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण के लिए स्वेच्छा से योगदान कर सकते हैं।

बैंकः भारतीय स्टेट बैंक
खाता नाम: श्री राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र
शाखा: नया घाट रोड, अयोध्या, यू.पी.
बचत खाता: 39161495808
आईएफसी कोड: SBIN0002510

बैंकः पंजाब नेशनल बैंक
खाता नाम: श्री राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र
शाखा: नाया घाट, अयोध्या उ.प्र।
बचत खाता: 3865000100139999
आईएफसी कोड: PUNB0386500

बैंकः बैंक ऑफ बड़ौदा
खाता नाम: श्री राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र
शाखा: नाया घाट, अयोध्या उ.प्र।
बचत खाता: 05820100021211
आईएफसी कोड: BARB0AYODHY




2021 के आगामी त्यौहार और व्रत











दिव्य समाचार










आप यह भी देख सकते हैं


EN हिं