कुरुक्षेत्र महोत्सव

Kurukshetra Festival

संक्षिप्त जानकारी

  • Date : 14, Tuesday, December 2021

कुरुक्षेत्र महोत्सव, भारत के राज्य हरियाणा के कुरुक्षेत्र स्थान में पर मानाया जाता है। यह उत्सव हिन्दूओं के प्रसिद्ध एवं धार्मिक ग्रंथ भगवाग गीता के जन्म के उपलक्ष्य में मानाया जाता है। कुरुक्षेत्र हिन्दूओं के लिए एक महत्वपूर्ण धार्मिक स्थल है। यह उत्सव पारंपरिक लूनर कैलेंडर के अनुसार मार्गशीर्ष माह के शुक्ल पक्ष के 11 वें दिन आयोजित किया जाता है। यह त्यौहार न केवल भगवद गीता के जन्म का उत्सव मनाता है, बल्कि पांडवों और कौरवों के बीच महाभारत के रोमांचक युद्ध के लिए श्रद्धांजलि भी देता है।

महाभारत काल में जब अर्जुन ने कौरवों से युद्ध करने से मना कर दिया था। जब भगवान श्रीकृष्ण ने अर्जुन भगवद् गीता का ज्ञान दिया था। यह गीता का ज्ञान इस धरती पर इसी दिन पहुंचा था। महाभारत का युद्ध कुरूक्षेत्र पर ही लड़ा गया था और गीता ज्ञान भी इस स्थान पर ही दिया गया था। इसलिए इस त्यौहार का यह स्थान शुभ माना जाता है। यह त्यौहार एक सप्ताह तक मानाया जाता है। इस दौरान कुरुक्षेत्र में लाखों श्रद्धालु भारत के हर राज्य से इस त्यौहार में शामिल होने के लिए आते है।

सप्ताह भर चलने वाले इस उत्सव का आयोजन कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड, हरियाणा पर्यटन, जिला प्रशासन, उत्तर क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र, पटियाला, सूचना और जनसंपर्क विभाग, हरियाणा द्वारा किया जाता है, जो इस त्यौहार को हिंदू धर्म का एक शानदार उत्सव बनाते हैं।

You can Read in English...

आरती

मंत्र

चालीसा

आप को इन्हें भी पढ़ना चाहिए हैं :

Other Bhagavad Gita Indian Festival of Fair

Kurukshetra Festival बारे में


आगामी त्यौहार

सकट चौथ व्रत माघ कालाष्टमी व्रत मौनी अमावस्या क्या है और कब है? इस दिन गंगा में स्नान करना शुभ माना जाता है वसन्त पंचमी, सरस्वती पूजा, वसंत पंचमी कथा महाशिवरात्रि 2021

आपको इन्हे देखना चाहिए

आने वाला त्योहार / कार्यक्रम

आज की तिथि (Aaj Ki Tithi)

ताज़ा लेख

इन्हे भी आप देख सकते हैं

X