अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2022

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2022

महत्वपूर्ण जानकारी

  • दिनांक: मंगलवार, 21 जून 2022
  • पहली बार मनाया गया: 21 जून 2015

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस एक ऐसा दिन जिसमें पूरा विश्व योग दिवस के रूप में मनाया जाता है इस दिन पूरे विश्व के लोग सुबह सुबह योग करते है। पहली बार यह योग दिवस 21 जून 2015 में मनाया गया था। इस दिवस की स्थापना की पहल भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में 27 सितम्बर 2014 को अपने भाषण से की थी।

योग एक ऐसी क्रिया है जिसमें व्यक्ति योग शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक अभ्यास करता है योग कि उत्पत्ति भारत में हुई थी। जिसका वर्णन हमारे वेदों में भी किया गया है।

नरेन्द्र मोदी जी ने अपने भाषण में कहा था कि -
‘‘आयोग भारत की प्राचीन परंपरा का एक अमूल्य उपहार है यह दिमाग और शरीर की एकता का प्रतीक है। मनुष्य और प्रकृति के बीच सामंजस्य है- विचार, संयम और पूर्ति प्रदान करने वाला है। तथा स्वास्थ्य और भलाई के लिए एक समग्र दृष्टिकोण को भी प्रदान करने वाला है। यह व्यायाम के बारे में नहीं है, लेकिन अपने भीतर एकता की भावना, दुनिया और प्रकृति की खोज के विषय में है। हमारी बदलती जीवन- शैली में यह चेतना बनकर, हमें जलवायु परिवर्तन से निपटने में मदद कर सकता है। तो आयें एक अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को गोद लेने की दिशा में काम करते हैं।‘‘
-नरेंद्र मोदी, संयुक्त राष्ट्र महासभा

श्री श्री रविशंकर ने नरेंद्र मोदी के प्रयासों की सराहना करते है कहाः
‘‘किसी भी दर्शन, धर्म या संस्कृति के लिए राज्य के संरक्षण के बिना जीवित रहना बहुत मुश्किल है। योग लगभग एक अनाथ की तरह अब तक अस्तित्व में था। अब संयुक्त राष्ट्र द्वारा आधिकारिक मान्यता योग के लाभ को विश्वभर में फैलाएगी।’’
- श्री श्री रविशंकर



2021 के आगामी त्यौहार और व्रत











दिव्य समाचार










आप यह भी देख सकते हैं


EN हिं