शिव ध्यान मंत्र

Shiva Dhyan Mantra

करचरण कृतं वाक्कायजं कर्मजं वा ।
श्रवणनयनजं वा मानसं वापराधं ॥
विहितमविहितं वा सर्वमेतत्क्षमस्व ।
जय जय करुणाब्धे श्रीमहादेव शम्भो ॥

अर्थ: -  हे भगवान शिव, आप दया के सागर हैं। कृपया मेरे हाथ या पैर, या शब्द, मेरी आँखों, कानों और दिमाग से पैदा हुई सभी गलतियों और मेरे कर्म, जो जाने या अनजाने में किए गए हैं, उन्हें क्षमा करें।

You can Read in English...

आरती

मंत्र

चालीसा

आप को इन्हें भी पढ़ना चाहिए हैं :

Other Shiv Devotional Materials of Mantra

आपको इन्हे देखना चाहिए

आगामी त्योहार और व्रत 2021

आज की तिथि (Aaj Ki Tithi)

ताज़ा लेख

इन्हे भी आप देख सकते हैं

X