विश्राम घाट मथुरा

विश्राम घाट मथुरा

महत्वपूर्ण जानकारी

  • Location: Chaubiya Para Moholla, Dwarkadhish Ki Bjaria, Vishram Bazar Rd, Mathura, Uttar Pradesh 281001
  • Aarti Time: Sunrise and Sunset.
  • Nereast Railway Station: Mathura Junction, The temple is located at a distance of about 3 km from the railway station.
  • Nearest Air Port : Agra Airport, which is around 60 km away from the temple.

विश्राम घाट भारत के प्रमुख पवित्र घाटों में से एक है यह मथुरा शहर में स्थित जो कि भारत के उत्तर प्रदेश राज्य में है तथा विश्राम घाट पवित्र यमुना नदी के किनारे व श्री द्वाराकाधीश मंदिर के पास जो कि भारत के प्रमुख बडे मंदिरो में से एक है। मथुरा शहर के कुल 25 घाट है जिसमें से प्रमुख व प्रसिद्ध घाट विश्राम घाट है।

ऐसा माना जाता है कि जब भगवान श्री कृष्ण ने अपने मामा कंस का वध किया था। कंस के वध के बाद भगवान श्री कृष्ण और उनके भाई बलराम ने यहां आकर विश्राम किया था, तभी से इस जगह को विश्राम घाट नाम से जाना जाता है।

विश्राम घाट सुन्दर व पवित्र मंदिरों के साथ बना हुआ है तथा मथुरा के महत्वपूर्ण धार्मिक स्थलों में से एक है। इस घाट पर बने मंदिर है मुकुट मंदिर, राधा-दामोदर, मुरली मनोहर, नीलकण्डश्वर मंदिर, यमुना-कृष्णा मंदिर, लंगली हनुमान मंदिर, नरसिंह मंदिर आदि।

विश्राम घाट पर पवित्र यमुना नदी की आरती सांय काल में रोज आयोजित होती है, ऐसा कोई भी दिन नहीं गया जब आरती को आयोजन न हुआ हो। यहा की लोककथा के अनुसार ऐसा माना जाता है कि रंक्षा बंधन के त्यौहार पर महिलायें इस घाट पर स्नान करने से उनके भाईयों की उम्र लंबी हो जाती है।

ऐसा माना जाता है कि यह पवित्र स्थल कई बार तबाह व संरक्षित किया गया है। यह कई बार के हमलों से तबाह हुआ है, सिंकदर लोधी के समय के दौरान दो वैष्णव संत केशव कश्मीरी और वल्लभाचार्य ने इसका पुनः निर्माण किया था। अकबर शासन के दौरान भी इस पवित्र स्थल का पुनः निर्माण किया गया था।

घाटों के नाम:  गणेश घाट, दशाश्वमेध घाट, सरस्वती संगम घाट, चक्र तीर्थ घाट, कृष्णा गंगा घाट, सोमा तीर्थ या स्वामी घाट, घंटाघरन घाट, धारा पट्टन घाट, वेकुंट घाट, नव तीर्थ, अशीकुण्डघाट, मणिकर्णिका घाट।
गुप्ता तीर्थ घाट,  प्रयाग घाट, श्याम घाट, राम घाट, कनखल घाट, ध्रुव घाट, सप्तऋषि घाट, मोक्ष तीर्थ घाट, सूर्या घाट, रावण कोटि घाट, बुद्ध घाट।


फोटो गैलरी




2021 के आगामी त्यौहार और व्रत











दिव्य समाचार










आप यह भी देख सकते हैं


Humble request: Write your valuable suggestions in the comment box below to make the website better and share this informative treasure with your friends. If there is any error / correction, you can also contact me through e-mail by clicking here. Thank you.

EN हिं