भगवान शिव का अष्टोत्तर शतनामावली

भगवान शिव का अष्टोत्तर शतनामावली

भगवान शिव जिनके बारे में पुरी तरह से कोई नहीं जान पायें है, क्योंकि भगवान शिव अनन्त है, भगवान शिव को विध्वंसक माना जाता है। भगवान शिव को महोदव कहा जाता है, क्योंकि भगवान शिव देवों के देव है। भगवान शिव को सर्वोच्च कहा जाता है क्योंकि भगवान शिव हीे ब्रह्मांड की रचना, रक्षा और परिवर्तन करते है। भगवान शिव को कई नामों से जाना जाता है। भगवान शिव के 108 नाम, जिन्हें सामूहिक रूप से भगवान शिव के अष्टोत्तर शतनामावली के रूप में जाना जाता है। जो इस प्रकार है।

  1. ॐ शिवाय नम:
  2. ॐ महेश्वराय नम:
  3. ॐ शंभवे नम:
  4. ॐ पिनाकिने नम:
  5. ॐ शशिशेखराय नम:
  6. ॐ वामदेवाय नम:
  7. ॐ विरूपाक्षाय नम:
  8. ॐ कपर्दिने नम:
  9. ॐ निललोहिताय नम:
  10. ॐ शंकराय नम:
  11. ॐ शूलपाणये नम:
  12. ॐ खट्वांगिने नम:
  13. ॐ विष्णुबल्लभाय नम:
  14. ॐ शिपिविष्टाय नम:
  15. ॐ अंबिकानाथाय नम:
  16. ॐ श्रीकण्ठाय नम:
  17. ॐ भक्तवत्सलाय नम:
  18. ॐ भवाय नम:
  19. ॐ शर्वाय नम:
  20. ॐ त्रिलोकेशाय नम:
  21. ॐ शितिकण्ठाय नम:
  22. ॐ शिवाप्रियाय नम:
  23. ॐ उग्राय नम:
  24. ॐ कपालिने नम:
  25. ॐ कामारये नम:
  26. ॐ अन्धकासुर सूदनाय नम:
  27. ॐ गंगाधराय नम:
  28. ॐ ललताक्षाय नम:
  29. ॐ कालकालाय नम:
  30. ॐ कृपानिधये नम:
  31. ॐ कृपानिधये नम:
  32. ॐ भीमाय नम:
  33. ॐ परशुहस्ताय नम:
  34. ॐ मृगपाणये नम:
  35. ॐ जटाधराय नम:
  36. ॐ कैलासवासिने नम:
  37. ॐ कवचिने नम:
  38. ॐ कटोराय नम:
  39. ॐ त्रिपुरान्तकाय नम:
  40. ॐ वृषांकाय नम:
  41. ॐ वृषभारूढय नम:
  42. ॐ भस्मोद्धूलित विग्रहाय नम:
  43. ॐ सामप्रियाय नम:
  44. ॐ स्वरमयाय नम:
  45. ॐ त्रयीमूर्तये नम:
  46. ॐ अनीश्वराय नम:
  47. ॐ सर्वज्ञाय नम:
  48. ॐ परमात्मने नम:
  49. ॐ सोमसूर्याग्निलोचनाय नम:
  50. ॐ हविषे नम:
  51. ॐ यज्ञमयाय नम:
  52. ॐ सोमाय नम:
  53. ॐ पंचवक्त्राय नम:
  54. ॐ सदाशिवाय नम:
  55. ॐ विश्वेश्वराय नम:
  56. ॐ विरभद्राय नम:
  57. ॐ गणनाथाय नम:
  58. ॐ प्रजापतये नम:
  59. ॐ हिरण्यरेतसे नम:
  60. ॐ दुर्धर्षाय नम:
  61. ॐ गिरिशाय नम:
  62. ॐ अनघाय नम:
  63. ॐ भुजंगभूषणाय नम:
  64. ॐ भर्गाय नम:
  65. ॐ गिरिधन्वने नम:
  66. ॐ गिरिप्रियाय नम:
  67. ॐ कृत्तिवाससे नम:
  68. ॐ पुरारातये नम:
  69. ॐ भगवते नम:
  70. ॐ प्रमथाधिपाय नम:
  71. ॐ मृत्युंजयाय नम:
  72. सूक्ष्मतनवे नम:
  73. ॐ जगद्यापिने नम:
  74. ॐ जगद्गुरवे नम:
  75. ॐ व्योमकेशाय नम:
  76. ॐ महासेनजनकाय नम:
  77. ॐ चारुविक्रमाय नम:
  78. ॐ रुद्राय नम:
  79. ॐ भूतपतये नम:
  80. ॐ स्थाणवे नम:
  81. ॐ अहिर्बुध्न्याय नम:
  82. ॐ दिगंबराय नम:
  83. ॐ अष्टमूर्तये नम:
  84. ॐ अनेकात्मने नम:
  85. ॐ सात्विकाय नम:
  86. ॐ शुद्दविग्रहाय नम:
  87. ॐ शाश्वताय नम:
  88. ॐ खण्डपरशवे नम:
  89. ॐ अजाय नम:
  90. ॐ पाशविमोचकाय नम:
  91. ॐ मृडाय नम:
  92. ॐ पशुपरये नम:
  93. ॐ देवाय नम:
  94. ॐ महादेवाय नम:
  95. ॐ अव्ययाय नम:
  96. ॐ हरये नम:
  97. ॐ भगनेत्रभिदे नम:
  98. ॐ अव्यक्ताय नम:
  99. ॐ हराय नम:
  100. ॐ दक्षाध्वरहराय नम:
  101. ॐ पूषदन्तभिदे नम:
  102. ॐ अव्यग्राय नम:
  103. ॐ सहस्राक्षाय नम:
  104. ॐ सहस्रपदे नम:
  105. ॐ अपवर्गप्रदाय नम:
  106. ॐ अनन्ताय नम:
  107. ॐ तारकाय नम:
  108. ॐ परमेश्वराय नम:


2021 के आगामी त्यौहार और व्रत











दिव्य समाचार










आप यह भी देख सकते हैं


Humble request: Write your valuable suggestions in the comment box below to make the website better and share this informative treasure with your friends. If there is any error / correction, you can also contact me through e-mail by clicking here. Thank you.

EN हिं