जय जय जय हनुमान गोसाईं

जय जय जय हनुमान गोसाईं

बेगी हरो हनुमान महाप्रभु,
जो कछु संकट होए हमारो।
कौन से संकट मोर गरीब को,
जो तुम से नहीं जात है टारो॥

जय जय जय हनुमान गोसाईं,
कृपा करो महाराज।
जय जय जय हनुमान गोसाईं,
कृपा करो महाराज।

तन मे तुम्हरे शक्ति विराजे,
मन भक्ति से भीना।
जो जन तुम्हरी शरण मे आये,
दुःख दरद हर लीना।
(हनुमत दुःख दरद हर लीना)

महावीर प्रभु हम दुखियन के
तुम हो गरीब नवाज॥
(हनुमत तुम हो गरीब नवाज)

जय जय जय हनुमान गोसाईं,
कृपा करो महाराज।

राम लखन वैदेही तुम पर
सदा रहे हर्षाये।
हृदय चीर के तुमने,
राम सिया का दर्शन दिया कराये
हनुमत दर्शन दिया कराये।

दोऊ कर जोड़ अरज हनुमंता
कहिओ प्रभु से आज॥
हनुमत कहिओ प्रभु से आज

जय जय जय हनुमान गोसाईं,
कृपा करो महाराज।

राम भजन के तुम हो रसिया,
हनुमत मंगलकारी।
अर्चन वंदन करते तेरा
दुनिया के नर नारी।
(हनुमत दुनिया के नर नारी)

राम नाम जप के हनुमंता
बने भगतन सरताज॥
(हनुमत बने भगतन सरताज)

जय जय जय हनुमान गोसाईं,
कृपा करो महाराज।
जय जय जय हनुमान गोसाईं,
कृपा करो महाराज।





You Can Also Visit