2021 में एकादशी तिथि

2021 में एकादशी तिथि

महत्वपूर्ण जानकारी

  • कामिका एकादशी
  • बुधवार, 04 अगस्त 2021
  • एकादशी तिथि प्रारंभ: 03 अगस्त 2021 दोपहर 12:59 बजे
  • एकादशी तिथि समाप्ति : 04 अगस्त 2021 अपराह्न 03:17 बजे

एकादशी एक दिन के रूप में माना जाता है हिन्दू धर्म में एकादशी का विशेष महत्व है। यह दिन हिन्दू महीने में होने वाले दो चन्द्र चरणों के ग्यारहवां दिन को कहा जाता है। चन्द्र चरणो दो होते है शुक्ल पक्ष और कृष्ण पक्ष। यह दिन हिन्दू कैलेण्डर के अनुसार एक वर्ष में 24 बार आता है। कभी-कभी, दो अतिरिक्त एकादशी होती हैं जो एक लीप वर्ष में होती हैं। प्रत्येक एकादशी के दिन विशिष्ट लाभों और आशीर्वादों को प्राप्त किया जाता है जो विशिष्ट गतिविधियों के प्रदर्शन से प्राप्त होते हैं। भागवत् पुराण में भी एकादशी के बारे में बताया गया है।

हिन्दू धर्म और जैन धर्म में एकादशी को आध्यात्मिक दिन माना जाता है। इस दिन महिलायें और पुरुष एकादशी का उपवास करते है। निर्जला एकादशी के दिन ना ही कुछ खाया जाता है और ना ही पानी पीया जाता है। इस दिन ज्यादातर चावल नहीं खाया जाता है। इस दिन सब्जी और दूध उत्पाद का ही सेवन किया जाता है।

इस्कॉन संगठन के अनुयायियों के लिए एकादशी व्रत का बहुत महत्व है। इस्कॉन के अनुयायियों के लिए एकादशी तिथि भिन्न हो सकती है। Please visit

2021 में एकादशी तिथियों की सूची

तारीख दिन
शनिवार, 09 जनवरी सफला एकादशी
रविवार, 24 जनवरी पौष पुत्रदा एकादशी
रविवार, 07 फरवरी षटतिला एकादशी
मंगलवार, 23 फरवरी जया एकादशी
मंगलवार, 09 मार्च विजया एकादशी
गुरुवार, 25 मार्च आमलकी एकादशी
बुधवार, 07 अप्रैल पापमोचिनी एकादशी
शुक्रवार, 23 अप्रैल कामदा एकादशी
शुक्रवार, 07 मई वरुथिनी एकादशी
रविवार, 23 मई मोहिनी एकादशी
रविवार, 06 जून अपरा एकादशी
सोमवार, 21 जून निर्जला एकादशी
सोमवार, 05 जुलाई योगिनी एकादशी
मंगलवार, 20 जुलाई देवशयनी एकादशी
बुधवार, 04 अगस्त कामिका एकादशी
बुधवार, 18 अगस्त श्रावण पुत्रदा एकादशी
शुक्रवार, 03 सितंबर अजा एकादशी
शुक्रवार, 17 सितंबर परिवर्तिनी एकादशी
शनिवार, 02 अक्टूबर इन्दिरा एकादशी
शनिवार, 16 अक्टूबर पापांकुशा एकादशी
सोमवार, 01 नवंबर रमा एकादशी
रविवार, 14 नवंबर देवुत्थान एकादशी
मंगलवार, 30 नवंबर उत्पन्ना एकादशी
मंगलवार, 14 दिसंबर मोक्षदा एकादशी
गुरुवार, 30 दिसंबर सफला एकादशी

2022 की एकादशी तिथि





2021 के आगामी त्यौहार और व्रत











दिव्य समाचार










आप यह भी देख सकते हैं


EN हिं