भाई दूज 2021

Bhai Dooj 2021

संक्षिप्त जानकारी

  • दिनांक: शनिवार, 06 नवंबर 2021।
  • दिनांक: सोमवार, 16 नवंबर 2020।
  • क्या आप जानते हैं: यह त्योहार रक्षा बंधन के त्योहार के समान है।
  • भाई दूज कथा

भाई दूज का त्योहार हिन्दूओं को प्रसिद्ध त्योहार है। यह त्योहार रक्षा बंधन के त्योहार के समान है। भाई दूज के त्योहार कई नामों से जाना जाता है जैसे भाबीज, भाई टीका, भाई फोंटा आदि। यह उत्सव विक्रम संवत हिंदू कैलेंडर या कार्तिक के शालिवाहन शाका कैलेंडर माह के शुक्ल पक्ष के दूसरे चंद्र दिवस (उज्ज्वल पखवाड़े) में मनाया जाता है। यह दिवाली के त्योहार के दूसरे दिन आता है।

इस दिन के उत्सव रक्षा बंधन के त्योहार के समान ही मनाया जाता हैं। इस दिन बहनें अपने भाइयों को उपहार देती हैं और छोटी बहन भी अपने बड़े भाइयों को उपहार देती हैं। भाई भी अपनी बहनों को उपहार देते हैं। देश के दक्षिणी भाग में, दिन को यम द्वितीया के रूप में मनाया जाता है।

भारत के उत्तर भाग में, एक अनुष्ठान भी किया जाता है, एक सूखा नारियल (जिसे क्षेत्रीय भाषा में गोला कहा जाता है) को क्लेवा से बांधा जाता है, बहनें अपने भाई की आरती करती हैं और भाई के माथे पर लाल टीका लगाती हैं। भाई दूज के अवसर पर यह टीका समारोह भाई की लंबी और खुशहाल जिंदगी के लिए बहन प्रार्थना करती है, सूखा नारियल अपने भाई को देती है। बदले में, बड़े भाई अपनी बहनों को आशीर्वाद देते हैं और उन्हें उपहार या नकद रुपये देते है।
पूरा समारोह अपनी बहन की रक्षा के लिए भाई के कर्तव्य को दर्शाता है, साथ ही अपने भाई के लिए बहन का आशीर्वाद भी।

अगर भाई व बहन एक दूसरे से दूर रहते है और उसके घर नहीं जा सकते, तो बहन अपने भाई की लंबी और खुशहाल जिंदगी के लिए चाँद देवता से प्रार्थना करती है और चंद्रमा की आरती करती है। यही कारण है कि हिंदूओं में चंद्रमा को चंदामामा कहा जाता हैं (चंदा का मतलब चाँद और माँ का मतलब माँ का भाई होता है)।

You can Read in English...

आप को इन्हें भी पढ़ना चाहिए हैं :


आगामी त्यौहार

बुद्ध पूर्णिमा 2021 मोहिनी एकादशी 2021 वैशाख पूर्णिमा 2021 अचला या अपरा एकादशी 2021 गंगा दशहरा 2021

आपको इन्हे देखना चाहिए

आगामी त्योहार और व्रत 2021

आज की तिथि (Aaj Ki Tithi)

ताज़ा लेख

इन्हे भी आप देख सकते हैं

X