वीरभद्र मंदिर उत्तराखंड

वीरभद्र मंदिर उत्तराखंड

महत्वपूर्ण जानकारी

  • Location: Aam Bag, IDPL Colony, Rishikesh, Uttarakhand 249202.
  • Nearest Railway Station: Rishikesh Railway Station at a distance of nearly 5.3 kilometres from Virbhadra Temple.
  • Nearest Airport: Jolly Grant Airport, Dehradun at a distance of nearly 22.4 kilometres from Virbhadra Temple.
  • Open and Close Timings : 06:00 am to 07:00 pm.

वीरभद्र मंदिर एक हिन्दू मंदिर है जो कि भारत के उत्तराखंड के पवित्र ऋषिकेश में स्थित है। यह मंदिर पूर्णतयः भगवान शिव के रूप जो कि एक उग्र रूप है को समर्पित है। ऐसा माना जाता है कि यह मंदिर लगभग 1300 साल पुराना है। यह मंदिर में भगवान शिव के उग्र रूप वीरभद्र की पूजा की जाती है।

हिंदू पौराणिक कथाओं में वर्णित है कि जब देवी सती ने अपने पिता दक्ष प्रजापति द्वारा हरिद्वार में अपने पति भगवान शिव को यज्ञ के लिए आमंत्रित नहीं करने पर अपमानित महसूस किया था। वह अपने पति की बेइज्जती के लिए खुद को निर्वासित करने के लिए यज्ञ कुंड में कूद गई। जब भगवान शिव ने यह समाचार सुना तो वे क्रोधित हो गए और अपने बाल खींचकर जमीन पर फेंक दिए। फलस्वरूप भगवान वीरभद्र का जन्म हुआ। वीरभद्र ने प्रजापति वध किया था। बाद में सभी देवी देवताओं द्वारा क्षमा याचना करने से भगवान ने प्रजापति को पुनः जीवित कर दिया था।

शिवरात्रि और सावन के अवसर पर रात्रि जागरण और विशेष पूजाएँ आयोजित की जाती हैं। वीरभद्र मंदिर के मिथक और किंवदंतियां वीरभद्र भगवान शिव का एक अवतार है जो क्रोध में उनके द्वारा बनाया गया था।

मंदिर नीलकंठ-ऋषिकेश राजमार्ग से 2 किमी दूर स्थित है। आप इस स्थान पर स्थानीय रेलवे स्टेशन तक पहुँच सकते हैं, जिसका नाम वीरभद्र स्टेशन है और यह राजमार्ग पर स्थित है जो मंदिर से 2 किमी दूर है। पास का गाँव है मीरा नगर और टिहरी विश्वपिट। जॉली ग्रांट, देहरादून में हवाई अड्डा 25 किमी दूर है।



Shiv Festival(s)












2021 के आगामी त्यौहार और व्रत











दिव्य समाचार










आप यह भी देख सकते हैं


EN हिं