गोविंददेव मंदिर वृंदावन

Govind Dev Ji Temple Vrindavan

संक्षिप्त जानकारी

  • Location: Vrindavan khadar, Raman Reiti, Vrindavan, Uttar Pradesh 281121.
  • Open and Close Timings: 04:30 am to 12.00 pm and 05:30 pm to 09:00pm
  • Nearest Railway Station:  Mathura Railway Station , which is around 13.2 km away from Govind dev Temple.
  • Nearest Airport: Indira Gandhi International Airport, which is around 164 km away from Govind dev Temple. Pandit Deen Dayal Upadhyay Airport Agra, which is around 77.3 km away from Govind dev Temple.

गोविंददेव मंदिर वृंदावन के प्रमुख मंदिरों में से एक है। यह एक हिन्दू मंदिर है जोकि भारत के राज्य उत्तर प्रदेश, मथुरा, वृंदावन में स्थित है। यह मंदिर वृंदावन में स्थित वैष्णव मंदिर है। इस मंदिर की भव्यता व सुन्दरता शानदार है। यह मंदिर लगभग 400 वर्ष पुराना है। इस मंदिर को गोविंदजी मंदिर भी कहा जाता है। यह मंदिर भगवान श्रीकृष्ण जी को पूर्णतयः समर्पित है। मंदिर के निर्माण में लाल पत्थर का प्रयोग किया था। इस मंदिर का निर्माण 1590 ई. में किया गया था। मंदिर के शिलालेख ये यह जानकारी मिलती है कि मंदिर का निर्माण आमेर (जयपुर, राजस्थान) के राजा भगवान दास के पुत्र राजा मानसिंह ने किया था। इस मन्दिर की शिल्प रूपरेखा का निरीक्षण रूप गोस्वामी और सनातन गुरु, कल्यानदास (अध्यक्ष), माणिक चन्द्र चोपड़ा (शिल्पी), गोविन्द दास और गोरख दास (कारीगर) के निर्देशन में हुआ।

गोविंददेव मंदिर को औरगंजेब के राज में काफी छतिग्रस्त कर दिया गया था। 1873 ई. में इस मंदिर का पुनः निर्माण किया गया था। सर विलियम मूर ने इस मंदिर को पुरात्तव विभाग को देना चाहा परन्तु उनसे मंदिर के लिए कोई अनुदान नहीं मिला था। तब इस मंदिर के पुननिर्माण हेतु जयपुर नेरश का पत्र लिखा था। तब नरेश ने 5000 का अनुदान दिया था। सर जॉर्ज काउपर ने सन् 1877 ई० के मार्च माह तक मन्दिर को नया रूप दिया।

गोविंदजी मंदिर में श्री कृष्णजन्मष्टमी बहुत ही धुमधाम से मनाई जाती है। भगवान श्री कृष्ण को लड्डू को प्रसाद चढ़ाया जाता है।

You can Read in English...

आरती

मंत्र

चालीसा


संबंधित त्योहार

फुलेरा दूज गोवर्धन पूजा कृष्ण जन्माष्टमी

आप को इन्हें भी पढ़ना चाहिए हैं :

Other Krishna Temples of Uttar Pradesh

मानचित्र में गोविंददेव मंदिर वृंदावन

आपको इन्हे देखना चाहिए

आने वाला त्योहार / कार्यक्रम

आज की तिथि (Aaj Ki Tithi)

ताज़ा लेख

इन्हे भी आप देख सकते हैं

X